मंकीपॅाक्‍स क्‍या है?: लक्षण, बचाव, टीका व फैलने का कारण | What is a Monkeypox in Hindi?

मंकीपॅाक्‍स क्‍या है?: लक्षण, बचाव, टीका व फैलने का कारण | What is a Monkeypox?: Symptoms, prevention, vaccine and causes of spread

MONKEYPOX IN HINDI

Monkeypox Case in Hindi – हेल्‍लो दोस्‍तो आज हम आपको मंकीपॉक्‍स के बारे में बतायेगें जो हाल ही में केरल में देश का पहला केस मिला है और WHO द्वारा इसके फैलने की चेतावनी दी जा रही है। तो आज हम बतायेगें क‍ि मंकीपॉक्‍स क्‍या है, मंकीपॉक्‍स के विषाणु कैसे फैलते है, मंकीपॉक्‍स के लक्षण क्‍या है, क्‍या मंकीपॉक्‍स योन संचारित है, मंकीपॉक्‍स के लक्षण होने पर आपको क्‍या करना चाहिए, मंकीपॉक्‍स का इलाज क्‍या है, क्‍या मंकीपॉक्‍स का कोई टीका है? य सब हम आपको इस पोस्‍ट के माध्‍यम से बतायेगें। अगर यह पोस्‍ट आपको अच्‍छी लगे तो अपने दोस्‍तो, रिश्‍तेदारों व परिवारों को जरूर शेयर करें। monkeypox kya he?

मंकीपॉक्स वायरस – यह क्या है?

मंकीपॉक्स वायरस Poxviridae परिवार में Orthopoxvirus genus का सदस्य है। सीधे शब्दों में कहें तो यह एक वायरल “zoonotic” जूनोटिक बीमारी है जो मुख्य रूप से मध्य और पश्चिम अफ्रीका के जंगलों में होती है। यह जंगली जानवरों में उत्पन्न होता है और फिर लोगों में फैलता है और आमतौर पर हल्के संक्रमण के रूप में लक्षणों के साथ प्रस्तुत करता है जिसमें बुखार, सिरदर्द और “skin rashes” त्वचा पर चकत्ते शामिल हैं। WHO ने सलाह दी है कि, यह कई प्रकार की चिकित्सीय जटिलताओं को भी जन्म दे सकता है। इसके दो मुख्‍य प्रकार है:-

  • The Congo strain ”कांगो स्ट्रेन’ – 10 प्रतिशत तक मृत्यु दर
  • The West African strain ”पश्चिम अफ्रीकी स्ट्रेन – 1 प्रतिशत मृत्यु दर।

विषाणु कैसे फैलता है?

जब लोग किसी संक्रमित जानवर के निकट शारीरिक संपर्क में आते हैं, विशेष रूप से बीमार या मृत जानवर के संपर्क में आने पर वायरस फैलता है। इसमें उन देशों में मांस या रक्त का संपर्क शामिल है जहां वायरस स्थानिक है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि सभी मांस को खाने से पहले अच्छी तरह से पकाया जाना चाहिए। monkeypox लोगों के बीच भी फैल सकता है; यदि आप किसी infected व्यक्ति के साथ निकट शारीरिक संपर्क रखते हैं तो आप इससे infected हो सकते हैं।

कपड़े, बिस्तर और तौलिये, और संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से वायरस से दूषित खाने के बर्तन/व्यंजन जैसी वस्तुएं भी आपको संक्रमित कर सकती हैं। किशोरों और वयस्कों की तुलना में बच्चे आमतौर पर गंभीर लक्षणों के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि यह वायरस भ्रूण या नवजात को जन्म या प्रारंभिक शारीरिक संपर्क के माध्यम से भी पारित किया जा सकता है।

मंकीपॉक्स के लक्षण क्या हैं?

मंकीपॉक्स के लक्षणों में:-

  • बुखार
  • मांसपेशियों में दर्द
  • तेज सिरदर्द
  • सूजी हुई लिम्फ नोड्स
  • त्वचा पर चकत्ते या घाव
  • कम ऊर्जा और पीठ दर्द

WHO इसे ‘दो से चार सप्ताह तक चलने वाले लक्षणों के साथ self-limited disease’ के रूप में वर्णित करता है। गंभीर मामले हो सकते हैं वैश्विक स्वास्थ्य निकाय ने कहा है कि हाल के मामलों में मृत्यु दर तीन से छह प्रतिशत के बीच रही है।

“यदि आपको लगता है कि आपके पास ऐसे लक्षण हैं जो monkeypox हो सकते हैं, तो अपने health care provider से सलाह लें। उन्हें बताएं कि क्या आपने किसी ऐसे व्यक्ति के साथ निकट संपर्क किया है जिसे मंकीपॉक्स का संदेह या पुष्टि हुई है।

क्या मंकीपॉक्स यौन संचारित है?

मंकीपॉक्स को पहले ”sexually transmitted infection” यौन संचारित संक्रमण के रूप में वर्णित नहीं किया गया है, हालांकि इसे सेक्स के दौरान सीधे संपर्क से, यानी त्वचा पर घावों के माध्यम से पारित किया जा सकता है। यह वर्तमान में अज्ञात है कि यह वीर्य या योनि तरल पदार्थ के माध्यम से फैलता है। क्योंकि ”genitals” जननांगों और मुंह के अंदर भी ”rashes” चकत्ते उभर सकते हैं, oral sex भी वायरस के संचरण का एक मार्ग हो सकता है।

संक्रमण के जोखिम को समझना महत्वपूर्ण है ‘यह उन लोगों तक सीमित नहीं है जो यौन रूप से सक्रिय हैं या पुरुषों के साथ यौन संबंध रखते हैं’, डब्ल्यूएचओ ने कहा, “जो कोई भी संक्रामक है, उसके साथ निकट शारीरिक संपर्क जोखिम में है।”

मंकीपॉक्स के लक्षण होने पर आपको क्या करना चाहिए?

जिन लोगों को लगता है कि उनमें मंकीपॉक्स के लक्षण हैं, उन्हें सलाह, परीक्षण और चिकित्सा देखभाल के लिए स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से संपर्क करना चाहिए। WHO ने कहा, “यदि संभव हो तो self-isolate करें और दूसरों के साथ निकट संपर्क से बचें,” और ऐसे लोगों को नियमित रूप से अपने हाथों को साफ करने की सलाह दी।

मंकीपॉक्स का इलाज क्या है?

जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, लक्षण आमतौर पर बिना किसी उपचार के अपने आप चले जाते हैं। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि लक्षण अक्सर उपचार की आवश्यकता के बिना हल हो जाते हैं, लेकिन चकत्ते और प्रभावित क्षेत्रों को रखना महत्वपूर्ण है – यदि संभव हो तो इसे सूखने दें, या इसे बचाने के लिए एक नम ड्रेसिंग के साथ कवर करें।

मुंह या आंखों में घावों को छूने से बचें। यदि आप अपना मुंह कुल्ला करना चाहते हैं या आई ड्रॉप का उपयोग करना चाहते हैं तो ऐसे उत्पादों से बचें जिनमें cortisone होता है। WHO के अनुसार, गंभीर मामलों के लिए vaccinia immune globulin (VIG) की सिफारिश की जा सकती है।

क्या कोई टीके हैं?

चेचक ”smallpox” के इलाज के लिए विकसित एक एंटीवायरल (tecovirimat, जिसे TPOXX के रूप में commercialized किया गया है) को मंकीपॉक्स के इलाज के लिए approved किया गया है।

चेचक के लिए अन्य टीके सीमित सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं क्योंकि दोनों रोग एक ही परिवार से हैं। चेचक के टीके लगाने वाले लोगों को मंकीपॉक्स से कुछ सुरक्षा मिलेगी।

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि 1980 में टीकाकरण समाप्त होने के बाद से 40-50 आयु वर्ग के लोगों को चेचक के खिलाफ टीका लगाए जाने की संभावना नहीं है।

***************

उम्‍मीद है कि आपको यह पोस्‍ट अच्‍छी लगी होगी। अगर दोस्‍तो आपको यह पोस्‍ट अच्‍छी लगी हो तो आप मुझे Comment करके जरूर बताएं। हम ऐसी ही पोस्‍ट अगली बार आपके लिये फिर लेके आयेगें एक नये अंदाज में और एक नये स्‍पेशल जीके हिंदी के साथ।

दोस्‍तो अगर यह पोस्‍ट आप लोगो ने पढ़ी और आप लोगो को यह पोस्‍ट अच्‍छी लगी तो कृपया ये पोस्‍ट आपके दोस्‍तो व रिश्‍तेदारों को जरूर Share करें। और आप मेरी ये पोस्‍ट Facebook, Instagram, Telegram व अन्‍य Social Media पर Share करें, धन्‍यवाद! में आपके उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना करता हुं।

Leave a Comment